मन पर नियंत्रण कैसे करें? How to Control Mind in Hindi ?

Share:
मन का स्वभाव बहुत ही चंचल होता है. शायद मन के इसी चंचलता के कारण इस पर काबू नहीं रख पाते है.   मन  पर कण्ट्रोल (Control) करना सरल काम नहीं है.
how to control mind in hindi
मन पर नियंत्रण कैसे करें?

ऐसे तो हमारे मन में हर समय अनेक प्रकार के विचार चलते रहते है जिसमे कुछ अच्छे और कुछ बुरे होते है. मन अपने चंचल स्वभाव के कारण बुरे विचारों की ओर जल्दी आकर्षित होता है.इसलिए मन को नियत्रिंत करना बहुत जरुरी है. 

मन क्या है?

मन की चंचलता के बारे में आपने बहुत सुना होगा और मुझे विश्वास है कि आप स्वयं अपने जीवन में इसको अनुभव भी किया होगा. 
जो विचार हम खुद को या अपने इन्द्रियों को खुश करने के लिए सोचते है उसे ही मन कहते है. जो भी विचार हमारे अंदर आते है और उनके बदौलत हम अच्छा या बुरा जैसा भी महसूस करते है उसे ही मन कहते है. 
मन हमेशा इन्द्रिय सुख को ज्यादा प्राथमिकता देता है और  एक कंफर्ट जोन में रहना पसंद करता है. इसलिए अगर आप नया चीज करने की कोशिश भी करते है तो आपके मन का कम्फर्ट जोन टूटने लगता है और उसे बचाने के लिए आपको  बहाने देता है. यदि आपके मन पर आपका कण्ट्रोल नहीं है तो आप वह काम शुरू नहीं करेंगे. 



मन पर कण्ट्रोल करना क्यों जरुरी है ?

आपके मन में एक सवाल आ रहा होगा कि मन पर कण्ट्रोल करना क्यों जरुरी है? मन पर अगर किसी प्रकार का नियंत्रण नहीं रहेगा तो जीवन में क्या हो जायेगा. मन अगर आपके कण्ट्रोल में नहीं रहेगा तो यह आपके जीवन को नर्क बना देगा.
उदाहरण के लिए - आपका लक्ष्य है जीवन में UPSC, SSC, NDA, PSC जैसे एग्जाम पास करना और यदि आपका मन आपके कण्ट्रोल में नहीं है तो आप वही करेंगे जो आपके मन में आएगा. जब चाहे टी.वी. देखेंगे और  इंटरनेट में समय में बिताएंगे, दोस्तों के साथ बेवजह घूमेंगे और गपसप करते रहेंगे.. इस तरह कभी भी आपका मन पढ़ने को नहीं होगा और आपका लक्ष्य पीछे छूट जायेगा . जीवन के बड़े मुकाम पाने के लिए मन पर कण्ट्रोल होना बहुत जरुरी है. 


मीना का बर्थडे बेकार 

मीना नाम की एक नटखट लड़की रहती है जिसका मन बहुत ही चंचल रहता है. उसे जंक फ़ूड  ज्यादा खाने की बेकार आदत थी. अगले महीने में  मीना का बर्थडे था . मीना के पापा ने उसके आने वाले बर्थडे के लिए उसके लिए Princess Dress  लिए. मीना अपने चंचल मन के कारण खुद को ज्यादा जंक फ़ूड खाने से रोक नहीं पायी और मोटी होती चली गयी. जब उसका बर्थडे आया तो अपने पापा के दिए Princess Dress को मोटापा के कारण पहन नहीं पायी और उनका बर्थडे ख़राब हो गया. उसके बाद मीना ने सोचा की अब से मन को कण्ट्रोल में रखूंगी और लिमिट से ही खाउंगी. 

मन पर  कण्ट्रोल कैसे करें? How to Control Mind

अब आपके Mind  में एक बात आ रहा होगा कि आखिर मन पर कण्ट्रोल करें तो कैसे करें ? ऐसे तो मन को वश में करना बहुत कठिन है और जितना इसे वश में करने की कोशिश करेंगे यह उतना ही चंचल होते जाता है. जैसे एक बच्चे को कुछ करने के लिए मना करो तो वह उसी काम को पहले करता है ठीक इसी तरह हमारा मन भी है. 
लेकिन कुछ अभ्यास से आप मन को पता चले बिना उसे कण्ट्रोल कर सकते है. कुछ दिनों के अभ्यास से आपका मन आपके वश में होगा. 
मन को कण्ट्रोल करने के लिए बेकार आदतों को छोड़कर अच्छी आदतों को अपनाना होगा.कुछ अभ्यास है जिसे फॉलो कर सकते है - 



1. डे प्लान बनाये 

मन को अपने अनुसार चलने के लिए पहला काम डे प्लान बनाये और उनका पूरा  पालन भी करें. दिन की शुरुवात में मन में डे प्लान होने से आपका मन ज्यादा बहाने नहीं बनाएगा. डे प्लान से आप काम को बढ़िया से मैनेज भी कर पाएंगे. 

2. ख़ाली न बैठे 

आपने एक कहावत तो सुनी होगी - ख़ाली दिमाग शैतान का घर. कोशिश करें कि ख़ाली न बैठे. आप जितना ज्यादा कामो में बिजी रहेंगे तो आपका मन किसी अन्य चीजों में नहीं भटकेगा. खाली बैठने से ही मन में उलटे-पुल्टे विचार आते है जिनका गलत प्रभाव भी हमारे जीवन में पड़ता है. 

3.  गलत विचारों  से दूर रहें

ऐसी बातें जो आपके लिए सही नहीं है ऐसे विचारों से  दूर रहें. जितना आप उन्हें सोचेंगे उतना ही आपके लिए नुकसानदायक साबित होगा. मन गलत विचारों को जल्दी ग्रहण करता है. 
यह भी पढ़े-   सोच का पाइजन 

4. अच्छे विचारों से खुद को भरें.

हमें रोज़ खुद को कुछ न कुछ अच्छे विचारों से भरना चाहिए. अच्छे विचार आपके मन की चंचलता को धीरे धीरे ख़त्म कर देगा . अच्छे विचारों के लिए रोज़ कुछ समय पुस्तक पढ़ने की आदत डाले.  पुस्तक पढ़ने से आपको रोज़ कुछ अच्छे विचारों के साथ नया सीखने को मिलेगा, जिससे   मन की रूचि बढ़ेगा और आपकी एकाग्र करने की शक्ति भी,  जिससे मन की चंचलता कम होगी.

5. कुछ नया सीखने की कोशिश करें 

मन की चंचलता को रोकने के लिए हमेशा कुछ नया स्किल या लैंग्वेज सीखने की कोशिश करें. इससे आपका मन कोई कम्फर्ट जोन (Comfort Zone) नहीं बना पायेगा और आपके अनुसार ही चलेगा. मुझे विश्वास है कि कुछ दिनों के अभ्यास से आपको जरूर कुछ फायदा होगा.  
यह भी पढ़े- 
                             ----------*****----------
अगर यह पोस्ट आपको पसंद आया हो तो इसे Like करना और अपने दोस्तों के साथ Share करना न भूले और ऐसे ही प्रेणादायक लेख ईमेल पर मुप्त में पाए. हमें Facebook Page पर भी Follow कर सकते है.

No comments